36 C
Mumbai
Thursday, February 29, 2024
होमन्यूज़ अपडेटमराठा आरक्षण: क्या असफल होगा मुंबई में मनोज जारांगे का विरोध प्रदर्शन?

मराठा आरक्षण: क्या असफल होगा मुंबई में मनोज जारांगे का विरोध प्रदर्शन?

करोड़ों की संख्या में मराठा मुंबई आने वाले हैं, सरकार हमें सुविधा दे, अब कहा गया है कि आरक्षण लेकर ही वापस आएंगे|अब दिन नजदीक आ रहे हैं, लेकिन उससे पहले जरांगे पाटिल के खिलाफ जनहित याचिका दायर की गई है|

Google News Follow

Related

मराठा आरक्षण का मुद्दा इस वक्त काफी गर्म है| मनोज जरांगे ने कहा है कि वह 20 जनवरी को मुंबई आएंगे और अनशन करेंगे| मनोज जरांगे ने सभी मराठा समाज से बड़ी संख्या में आजाद मैदान आने की अपील की है| करोड़ों की संख्या में मराठा मुंबई आने वाले हैं, सरकार हमें सुविधा दे, अब कहा गया है कि आरक्षण लेकर ही वापस आएंगे|अब दिन नजदीक आ रहे हैं, लेकिन उससे पहले जरांगे पाटिल के खिलाफ जनहित याचिका दायर की गई है|

क्या असफल होगा मनोज जरांगे का आंदोलन?: मनोज जरांगे के खिलाफ हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है| 20 तारीख को मुंबई में प्रदर्शन न करने को लेकर जरांगे की ओर से याचिका दायर की गई है| यह याचिका याचिकाकर्ता हेमंत पाटिल ने दायर की थी|

याचिका वास्तव में क्या कहती है?: ओबीसी और मराठा दोनों समुदायों ने आज़ाद मैदान में विरोध प्रदर्शन की अनुमति मांगी है। इस दिन से दोनों समुदायों ने आंदोलन की चेतावनी दी है|इससे दोनों समुदाय आमने-सामने आ सकते हैं और कानून-व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है| मनोज जरांगे का बयान है कि वह 2 करोड़ लोगों के साथ मुंबई आएंगे| अगर इनमें से एक करोड़ मराठा भाई मुंबई आ जाएं तो मुंबई को घेर लिया जा सकता है| इससे मुंबई की गतिशीलता पर असर पड़ेगा| मुंबईकरों को बहुत नुकसान होगा| इसका असर उस शहर पर पड़ेगा जो देश की आर्थिक राजधानी है| इसलिए, हेमंत पाटिल ने कहा है कि कोर्ट को मनोज जरांगे के आंदोलन पर उचित फैसला देना चाहिए|

जब भी मनोज जरांगे ने विरोध किया, सरकार ने उनकी बात सुनी,लेकिन अब मनोज जरांगे पाटिल मुंबई पर कब्ज़ा करने जा रहे हैं| हमने इस पर आपत्ति जताई है और हाई कोर्ट में याचिका दायर की है|’ हेमंत पाटिल ने कहा है कि उन्होंने मांग की है कि मनोज जरांगे और ओबीसी समुदाय से किसी को भी आजाद मैदान में विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए|

यह भी पढ़ें-

लोकसभा चुनाव-2024: मवि​आ​ में सीट बंटवारे पर प्रकाश अंबेडकर का सांकेतिक बयान​ !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,746फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
132,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें