25 C
Mumbai
Tuesday, July 23, 2024
होमदेश दुनियाकोई भी चुनौती अडानी ग्रुप की नींव को कमजोर नहीं कर सकती:...

कोई भी चुनौती अडानी ग्रुप की नींव को कमजोर नहीं कर सकती: गौतम अडानी

पिछले वर्ष शॉर्ट सेलिंग फर्म हिंडेनबर्ग ने रिपोर्ट पब्लिश करते हुए हिंडेनबर्ग ने अडानी समूह और समूह के चेयरमैन गौतम अडानी पर ५ गंभीर आरोप लगाए थे। इन आरोपों का खंडन करते हुए अडानी इंटरप्राइजेज ने भी जवाब रिपोर्ट निकली जिसपर निवेशकों ने तवज्जो नहीं दी थी।

Google News Follow

Related

अडानी समूह की Annual General Meeting सोमवार, 24 जून 2024 को नई दिल्ली में संपन्न हुई|जिसमें अडानी की ओर से अपनी कंपनी की पिछले वर्ष (2023 -2024) की चुनौतियों और अवसरों के बारे में समझाते हुए अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी ने अपना पक्ष रखा। पिछले वर्ष शॉर्ट सेलिंग फर्म हिंडेनबर्ग ने रिपोर्ट पब्लिश करते हुए हिंडेनबर्ग ने अडानी समूह और समूह के चेयरमैन गौतम अडानी पर ५ गंभीर आरोप लगाए थे। इन आरोपों का खंडन करते हुए अडानी इंटरप्राइजेज ने भी जवाब रिपोर्ट निकली जिसपर निवेशकों ने तवज्जो नहीं दी थी।

यह वो दौर था जब अडानी एंटरप्राइजेज ने FPO ( Follow on Public Offer) लाकर मार्केट से  20000 करोड़ रुपयों का निवेश जमा कर लिया था। विदेशी शॉर्ट सेलींग कंपनी के फैलाए भ्रम और गलत जानकारी से लड़ने में अक्षम रहे अडानी समूह को FPO निवेश लौटाना पड़ा। कल AGM में बोलते हुए चेयरमैन गौतम अडानी ने अडानी समूह के निरंतर बढते प्रॉफिट्स, नए निवेशों और नयी संभावनाओं की बातें की।

इस बार स्पष्ट रूप से उन्होंने अडानी समूह पर शॉर्ट सेलिंग फर्म के भ्रामक जानकारी को फ़ैलाने और राजकीय वैमनस्य से अडानी समूह पर लगाये आरोपों का सिरे से खंडन किया। उन्होंने कहा, हमने हमारे रिजल्टस से यह साबित कर दिया है कि कोई भी चुनौती अडानी समूह की नींव को कमजोर नहीं कर सकती|हमारी नींव 3 मूल्यों साहस, विश्वास और उद्देश्य के प्रति प्रतिबद्ध है। अमेरिकी शॉर्ट सेलर हिंडेनबर्ग रिपोर्ट एक साजिश के तहत दो तरफा हमला था, जिसमें गलत जानकारी और राजनीतिक आरोप शामिल थे।  

पिछले वर्ष विपक्ष ने हिंडेनबर्ग की रिपोर्ट के कंधे पर बंदूक रखकर भाजपा की सरकार को घेरने की कोशिश की थी। राजनीतिक तौर पर सरकार को धमकी देते रहने और बात बात पर JPC की मांग की गई। उसी प्रकरण के उपलक्ष्य में महुआ मोइत्रा ने अपने सांसद मेंबर के तौर पर मिलने वाले लॉगिन क्रेडेंशियल्स को अपने मित्र दर्शन हिरानंदानी को दिया था, जिसके जरिए वो महुआ मोइत्रा के कंधे पर बंदूक रख कर अडानी समूह पर निशाना लगा सके। राजनीतिक आरोपों का जिक्र करते हुए गौतम अडानी यही याद दिला रहे थे। AGM में बोलते हुए गौतम अडानी ने आखिर में कहा, आज हम मजबूत स्थिति में पहुँच गए है, पर हमारा बेस्ट अभी आना बाकी है।

यह भी पढ़ें-

49 Years Of Emergency: पीएम मोदी ने आपातकाल का जिक्र करते हुए विपक्ष पर साधा निशाना!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,495फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
166,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें