26 C
Mumbai
Friday, February 23, 2024
होमराजनीतिTelangana: रेवंत रेड्डी ने CM पद की ली शपथ, मंत्रिमंडल में एक...

Telangana: रेवंत रेड्डी ने CM पद की ली शपथ, मंत्रिमंडल में एक भी मुस्लिम नहीं  

एलबी स्टेडियम में आयोजित समारोह में सोनिया गांधी राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे सहित कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी पहुंचे थे।

Google News Follow

Related

तेलंगाना में गुरुवार को कांग्रेस नेता रेवंत रेड्डी मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इस मौके पर पूरा गांधी परिवार मौजूद था। सोनिया गांधी राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे सहित कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी पहुंचे थे। शपथ लेने के समय रेवंत रेड्डी अपनी पत्नी का हाथ पकड़कर मंच पर पहुंचे थे। जहां उन्होंने, अपनी पत्नी को गांधी फेमिली से मिलवाया। इस दौरान कई मंत्रियों ने शपथ भी ली। शपथ ग्रहण समारोह एलबी स्टेडियम में आयोजित किया गया था।

रेवंत रेड्डी को राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाया। उनकी अगुवाई में 12 सदस्यीय कैबिनेट का भी गठन किया गया। दलित समाज आने वाले मल्लू भट्टी विक्रमार्क को उप मुख्यमंत्री बनाया गया है। वहीं, उत्तम कुमार रेड्डी, दामोदर राजा नरसिम्हा, कोमातिरेड्डी वेंकट रेड्डी, दुल्ला श्रीधर बाबू, पोंगुलेटी श्रीनिवास रेड्डी, पूनम प्रबाकर, कोंडा सुरेखा, तुमाला नागेश्वर राव,अनसुइया सिथाका और जुपाली कृष्णा राव शामिल हैं। बताया जा रहा है कि आगे भी मंत्रियों की संख्या बढ़ाई जा सकती है।

 शपथ ग्रहण के बाद रेवंत रेड्डी ने जनता से किया वादा निभाते हुए तुरंत एक्शन में दिखे। उन्होंने मुख्यमंत्री आवास के पास लगाए गए लोहे के बाड़े को तत्काल प्रभाव से हटाने का निर्देश दिया। जिसके बाद श्रमिकों ने लोहे के बाड़े को हटाते हुए देखे गए। बताया जाता है कि इस बाड़े की वजह से कई दुर्घटनाएं हो चुकी है। चुनाव प्रचार के दौरान रेवंत ने जनता से वादा किया था कि अगर कांग्रेस सरकार में आती है तो वह इस लोहे के बाड़े को तत्काल प्रभाव से हटवा देगी।
इस कैबिनेट में सवर्ण, ओबीसी, दलित और आदिवासी नेताओं को जगह दी गई है। लेकिन कैबिनेट में एक भी मुस्लिम चेहरा नहीं है। कहा जा रहा है कि रेवंत रेड्डी के करीबी मुस्लिम नेता शब्बीर अली को मंत्री बनाया जा सकता है। ऐसा पहला मौक़ा जब सरकार में मुस्लिम विधायक को जगह नहीं मिली है। वैसे तेलंगाना विधानसभा में कुल 119 सीटें है। इसके हिसाब ज्यादा से ज्यादा 18 मंत्री बनाये जा सकते हैं। केसीआर के भी मंत्रिमंडल में 18 मंत्री थे। ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले समय में कांग्रेस और नेताओं को मंत्री बना सकती है। अभी 6 पद भरे जाने हैं।
ये भी पढ़ें  

​दिशा सालियान मामले में बढ़ेगी आदित्य ठाकरे की मुश्किल; एसआईटी ​करेगी​ जांच!

​​शीतकालीन सत्र 2023: नवाब मलिक अजित पवार​ गुट में!,’….सत्तारूढ़ पर विश्वास’!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,758फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें