29 C
Mumbai
Thursday, April 18, 2024
होमक्राईमनामाबरेली में मुस्लिम समुदाय ने काटा बवाल, दो युवकों को पीटा, चले...

बरेली में मुस्लिम समुदाय ने काटा बवाल, दो युवकों को पीटा, चले पत्थर

बरेली में हजारों की संख्या में मुस्लिम समुदाय सड़क पर उतर आया।

Google News Follow

Related

उत्तर प्रदेश के बरेली में शुक्रवार को मुस्लिम समुदाय नमाज पढ़ने के बाद सड़क पर उतर आया। यह घटना तब हुई जब आईएम प्रमुख तौकीर रजा ने नमाज आता के करने के बाद ज्ञानवापी पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान के खिलाफ गिरफ्तारियां देने का ऐलान किया। इसके बाद बरेली में हजारों की संख्या में मुस्लिम समुदाय सड़क पर उतर आया। ऐसे में पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया और ड्रोन से इसकी निगरानी की जा रही है।

पुलिस तौकीर रजा के समर्थकों को रोकने के लिए प्रयास कर रही है। खबर लिखे जाने तक बताया जा रहा है कि स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। और पुलिस के साथ ही अन्य बलों को भारी संख्या में तैनात किया गया है।गिरफ्तारी से पहले तौकीर रजा ने पीएम मोदी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी भी की। बता दें कि उत्तराखंड के हल्द्वानी में गुरुवार को अवैध तरह से बने मदरसा को हटाए जाने पर बवाल हो गया। इस इस दौरान मुस्लिम समुदाय ने पुलिस और नगर निगम के कर्मचारियों पर पत्थर और पेट्रोल बम से हमला किया गया। इस घटना बड़ी संख्या में पुलिस घायल हुए है।

वहीं, बरेली में पुलिस प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट मोड़ में है। तौकीर रजा ने कहा कि अगर कोई अपराधी है तो उसके मकान, मदरसा और मस्जिद पर बुलडोजर क्यों चलाया जा रहा है। इसका विरोध करेंगे। देश में नफ़रत का माहौल बना दिया गया है। इसके खिलाफ बरेली से अभियान की शुरुआत करेंगे और देश भर में चलाएंगे। हमें कोई ऐसा काम नहीं करना है जिससे गलत संदेश जाए। हम संवैधानिक तरीके अपना विरोध दर्ज कराएँगे।

बताया जा रहा है कि श्याम गंज इलाके में भीड़ ने दो युवकों से मारपीट की और उनकी बाइक को तोड़ दिया। कमल शर्मा समीर सागर से भीड़ मारपीट की। उनकी बाइक को भी तोड़ दिया। इसके बाद जब पुलिस ने मोर्चा संभाला तो आरोपी फरार हो गए। वहां पर पत्थरबाजी भी की गई। मौलाना तौकीर रजा को गिरफ्तारी के बाद रिहा कर दिया गया है। वह अपने घर चले गए।

ये भी पढ़ें

कौन हैं नरसिम्हा राव जिन्होंने भारत को उन्नत बनाने में निभाई महती भूमिका  

स्वामीनाथन वह कृषि विशेषज्ञ थे, जिन्होंने भारत को बनाया कृषि में आत्मनिर्भरता       

कौन हैं किसानों के “मसीहा” चौधरी चरण सिंह, जिन्हें मिला भारत रत्न 

तीन और भारत रत्न सम्मान देने की घोषणा, मोदी ने ट्वीट कर दी जानकारी

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,645फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें