33 C
Mumbai
Sunday, February 25, 2024
होमधर्म संस्कृतिदूसरे विग्रह की तस्वीर आई सामने, श्वेत वर्ण की मूर्ति में हैं हनुमान  

दूसरे विग्रह की तस्वीर आई सामने, श्वेत वर्ण की मूर्ति में हैं हनुमान  

मूर्ति के चारों ओर भगवान विष्णु के अवतारों को दर्शाया गया है। 

Google News Follow

Related

राम मंदिर के गर्भगृह में स्थापित करने के लिए तीन मूर्तियां बनाई गई थीं। जिसमें से एक मूर्ति को गर्भगृह विराजमान किया गया है। बाकी की दो मूर्तियों को भी स्थापित किया जाएगा। इस बीच मंगलवार को भगवान राम की दूसरी प्रतिमा सामने आई है। इस मूर्ति को सत्य नारायण पांडे ने बनाया है। बता दें कि सोमवार को पीएम मोदी के हाथों रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की गई। जिसमें देश भर के हस्तियां शामिल हुई थी।

मंगलवार को दूसरी मूर्ति सामने आई। जो श्वेत वर्ण पत्थर से बनी हुई है। इसमें भगवान के चरणों में हनुमानजी भी विराजित हैं। जबकि मूर्ति के चारों ओर भगवान विष्णु के अवतारों को दर्शाया गया है।  जिसमें  मत्स्य अवतार, कूर्म, वराह, नरसिंह, वामन, पशुराम, राम कृष्ण, बुद्ध और कल्कि के अवतार को दर्शाया गया है। इस मूर्ति को सत्य नारायण पांडे ने बनाया है। इस विग्रह को  प्रथम तल पर रखा जाना है।

वहीं, अभी तीसरी मूर्ति की तस्वीर सामने नहीं आई है। बताया जा रहा है कि तीसरी मूर्ति भी तैयार है। लेकिन उसकी तस्वीर को सार्वजनिक नहीं किया गया है। इस मूर्ति को गणेश भट्ट द्वारा बनाया गया है। कहा जा रहा है कि इस मूर्ति को भी राम मंदिर में ही स्थापित किया जाएगा। वहीं,गर्भ गृह में स्थापित मूर्ति शालिग्राम पत्थर से बनाई गई है। जिसकी ऊंचाई 51 इंच की है।जब कि इसका वजन 200 किलोग्राम है। यह पत्थर कर्नाटक  से लाया गया था। एक रिपोर्ट के अनुसार, यह पत्थर ढाई अरब साल पुराना है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्रेनाइट पत्थर पर न पानी और कार्बन का असर होगा। यानी यह पत्थर न तो पानी सोखता और न ही इस पर कार्बन का असर होता। इस मौसम का कोई असर नहीं होगा।  दरअसल, यह ग्रेनाइट का यह पत्थर कर्णाटक के मैसूर जिले के जयपुरा हाबोली गांव से लाया गया था। इस गांव को काले ग्रेनाइट की खदानों के लिए जाना जाता है। इस मूर्ति को कर्नाटक के अरुण योगीराज ने बनाया है।

ये भी पढ़ें   

 

रघुनंदन की एक झलक पाने रामभक्तों का उमड़ा जन सैलाब          

राम लला के सिर पर लगे 11 करोड़ रुपए के मुकुट में छुपे ‘है’ ​सूक्ष्म​ शिल्प कला कौशल!

राम मंदिर: प्राणप्रतिष्ठा उत्सव बदलते भारत की तस्वीर है, इमाम उमर अहमद इलियासी का बयान !

हिम्मत बिस्वा सरमा ने ‘राम राज्य’ लिखकर राहुल गांधी को दी चुनौती !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,756फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें