33 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमबिजनेस5 भारतीय शेयरों ने भरी उड़ान, गुलजार हुआ शेयर बाजार   

5 भारतीय शेयरों ने भरी उड़ान, गुलजार हुआ शेयर बाजार   

शेयरों ने बांड और नकदी जैसे अन्य परिसंपत्ति वर्गों से बेहतर प्रदर्शन किया है।

Google News Follow

Related

प्रशांत कारुलकर

लंबी अवधि में उच्च रिटर्न हासिल करने के लिए शेयरों में निवेश एक शानदार तरीका हो सकता है। ऐतिहासिक रूप से, शेयरों ने बांड और नकदी जैसे अन्य परिसंपत्ति वर्गों से बेहतर प्रदर्शन किया है। इसके अलावा, स्टॉक आपके पोर्टफोलियो में विविधता लाने, आपके जोखिम को कम करने और आपको विस्तारित और नवीन कंपनियों में विकास के अवसरों तक पहुंच प्रदान करने में मदद कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, स्टॉक में निवेश से जुड़े कुछ कर लाभ भी हैं, जैसे पूंजीगत लाभ कर कटौती। अंत में, स्टॉक अपेक्षाकृत तरल होते हैं, जिसका अर्थ है कि आप उन्हें आसानी से खरीद और बेच सकते हैं। इसलिए, यदि आप अपनी संपत्ति बढ़ाने का कोई रास्ता तलाश रहे हैं, तो शेयरों में निवेश करने पर विचार उचित हो सकता है।

पिछले 6 महीनों में लगातार सुधार वाले 5 भारतीय स्टॉक, उनके वर्तमान बाजार मूल्य (04 सितंबर 2023 तक) के साथ

1. जिंदल स्टेनलेस (सीएमपी: 265 रुपये):

भारत और विदेशों में स्टेनलेस स्टील की मजबूत मांग के कारण पिछले 6 महीनों में स्टॉक में 105% की बढ़ोतरी हुई है। कंपनी अपनी क्षमता का विस्तार भी कर रही है और नई प्रौद्योगिकियों में निवेश कर रही है।

2. कामधेनु (सीएमपी: 365 रुपये):

डेयरी उत्पादों की मजबूत मांग के कारण पिछले 6 महीनों में स्टॉक में 171% की बढ़ोतरी हुई है। कंपनी अपने वितरण नेटवर्क का भी विस्तार कर रही है और नए उत्पाद लॉन्च कर रही है।

3. स्टर्लिंग टूल्स (सीएमपी: 435 रुपये):

ऑटो और इंजीनियरिंग क्षेत्रों से मजबूत ऑर्डर प्रवाह के कारण पिछले 6 महीनों में स्टॉक में 109% की वृद्धि हुई है। कंपनी अपनी क्षमता का विस्तार भी कर रही है और नए बाजारों में प्रवेश कर रही है।

4. यूको बैंक (सीएमपी: 25 रुपये):

सरकार द्वारा बैंक में 2,350 करोड़ रुपये की पूंजी डालने की घोषणा के बाद पिछले 6 महीनों में स्टॉक में 116% की बढ़ोतरी हुई है। बैंक अपने वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने की राह पर भी है।

5. डब्ल्यूपीआईएल (सीएमपी: 2669 रुपये):

पवन टर्बाइनों की मजबूत मांग के कारण, पिछले 6 महीनों में स्टॉक में 114% की वृद्धि हुई है। कंपनी अपनी विनिर्माण क्षमता का भी विस्तार कर रही है और नए बाजारों में प्रवेश कर रही है।

ये उन कई भारतीय शेयरों में से कुछ हैं जिन्होंने पिछले 6 महीनों में लगातार सुधार दिखाया है। किसी भी स्टॉक में निवेश करने से पहले खुद से रिसर्च करना और वित्तीय सलाहकार से सलाह लेना जरूरी है।

यहां कुछ कारक दिए गए हैं जिन्होंने इन शेयरों के मजबूत प्रदर्शन में योगदान दिया:

– भारत में मजबूत आर्थिक विकास

– उपभोक्ता वस्तुओं और सेवाओं की बढ़ती मांग

– इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश की बढ़ोतरी

– अनुकूल सरकारी नीतियां

निवेशकों को इन शेयरों पर नजर रखनी चाहिए क्योंकि उनमें आने वाले महीनों और वर्षों में मजबूत रिटर्न देने की क्षमता है।

 

ये भी पढ़ें 

 

BJP का उदयनिधि को बड़ी चुनौती, कहा पहले अपनी मां को मंदिर जाने से रोको

बेटे के बचाव में MK स्टालिन, कहा I.N.D.I.A नहीं जीता तो… BJP का पलटवार

लॉयर हरीश साल्वे ने 68 की उम्र में की तीसरी शादी, ये हस्तियां बनी मेहमान     

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,601फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें