31 C
Mumbai
Sunday, May 19, 2024
होमदेश दुनियाजाने किस मुहूर्त में होगा रामलला की प्राण प्रतिष्ठा, जाने सबकुछ   

जाने किस मुहूर्त में होगा रामलला की प्राण प्रतिष्ठा, जाने सबकुछ   

राम मंदिर में 22 जनवरी 2024 को  विशिष्ठ मुहूर्त 12 बजकर 29 मिनट आठ सेकेंड से लेकर 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड होगा। 

Google News Follow

Related

अयोध्या में बन रहे राम मंदिर में 22 जनवरी 2024 को प्राण प्रतिष्ठा समारोह का आयोजन किया जा रहा है। इस समारोह में शामिल होने के वाले पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों प्राण प्रतिष्ठा किया जाएगा। इसके लिए विशिष्ठ मुहूर्त 12 बजकर 29 मिनट आठ सेकेंड से लेकर 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड होगा। शुभ मुहूर्त के लिए मात्र 84 सेकेंड समय होगा। बताया जा रहा है कि श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने देशभर के बड़े विद्वानों और चोटी के ज्योतिषाचार्यों को प्राण प्रतिष्ठा के लिए मुहूर्त निर्धारित करने को कहा था।        

बताया जा रहा है कि श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने  विद्वानों और ज्योतिषाचार्यों को 17 जनवरी से लेकर 25 जनवरी तक 5 तारीख दिए। इन्हीं पांचों दिवसों में प्राण प्रतिष्ठा के लिए मुहूर्त निर्धारित करने को कहा गया था। जिसमें काशी के द्रविड़ बंधुओं ने 22 जनवरी को चुना।  

  बताया जा रहा है कि इस विशिष्ठ मुहूर्त को बनारस के पंडित गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ और  पंडित विश्वेश्वर शास्त्री द्रविड़ ने निकला है। द्रविड़ बंधुओं ने रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के लिए संजीवनी मुहूर्त निकाला है। द्रविड़ बंधुओं ने जो संजीवनी मुहूर्त निकाला है  उसके बारे में महाकवि कालिदास ने अपनी कृति “पूर्वाकालमृत” में जिक्र किया है। इसकी विशेषता यह है कि किसी भी  मुहूर्त में  दोष उत्पन्न करने वाले पांच बाण अग्निबाण, रोग बाण, मृत्यु बाण, राज बाण और चोर बाण में कोई भी बाण संजीवनी मुहूर्त में नहीं रहेगा। द्रविड़ बंधुओं के अनुसार ये बाण अपने नाम के अनुरूप  असर छोड़ते हैं। 

 इसके अलावा संजीवनी मुहूर्त की एक और विशेषता है। इस दौरान नौ ग्रहों में से छह ग्रह मित्र के रूप में अपने घरों में विराजमान रहेंगे। खबरों के अनुसार, देश भर के सभी तीर्थों से जल लाया जाएगा और राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के दौरान जलाभिषेक किया जाएगा। कहा जा रहा है कि जिस घड़ा से राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का जलाभिषेक किया जाएगा उसमें एक हजार छिद्र होंगे। जिससे अभिषेक किया जाएगा। 

साथ ही अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के के लिए होने वाले अनुष्ठान में 121 वैदिक शामिल होंगे। इसमें से 51 वैदिक बनारस के होंगे। जो चारों वेदों के मूल शाखाओं परायण करेंगे। इसके लिए अब तक 35 नामों को फाइनल किया जा चुका है। बताया जा रहा है कि बाकी के नामों को  जल्द ही फाइनल किया जाएगा। इसके अलावा देशभर के नेताओं को इस कार्यक्रम के लिए न्योता भेजा जा रहा है। इस कार्यक्रम में सोनिया गांधी मल्लिकार्जुन खरगे आदि को भी आमंत्रित  किया गया है।         

ये भी पढ़ें           

अयोध्या के क्षत्रियों की शपथ पूरी, 500 साल बाद पहनेंगे पगड़ी और चमड़े के जूते!

Delhi liquor scam case: संजय सिंह और सिसोदिया का जेल में बीतेगा नया साल        

नए पुराने चेहरों का सामंजस्य: छत्तीसगढ़ में 9 विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा ‘स्वर्वेद महामंदिर’ का उद्घाटन

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,602फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
153,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें