29 C
Mumbai
Sunday, June 23, 2024
होमदेश दुनियाइजरायल पर हमास के हमले को बाइडेन ने भारत से जोड़ा! जाने...

इजरायल पर हमास के हमले को बाइडेन ने भारत से जोड़ा! जाने क्या कहा?       

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने दावा किया है कि हमास ने इजरायल पर इंडियन मिडिल ईस्ट यूरोप कॉरिडोर की वजह से हमला किया 

Google News Follow

Related

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने दावा किया है कि फिलिस्तीन का आतंकवादी संगठन हमास ने इजरायल पर हमला नई दिल्ली में जी 20 शिखर सम्मेलन के दौरान इंडियन मिडिल ईस्ट यूरोप कॉरिडोर की वजह से किया है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उनके पास इसका सबूत नहीं है,लेकिन अंतरात्मा इस बात को बताती है। इस दौरान ऑस्ट्रेलिया के पीएम अल्बानीज भी मौजूद थे।
 दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और ऑस्ट्रेलिया के पीएम एंथनी अल्बानीज एक  संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। जिसमें बाइडेन ने इस हमास द्वारा इजरायल पर हमले का यह एंगल दिया। उन्होंने इस दौरान कहा कि ” मै इस बात से आश्वस्त हूं कि हमास के हमले में से एक कारण यह भी एक था। इसका मेरे पास सबूत नहीं है। लेकिन मेरी अंतरात्मा यही कहती है। इजरायल के लिए क्षेत्रीय एकीकरण की दिशा में किये गए काम की वजह से हमास ने यह हमला किया। हम उस काम को नहीं छोड़ सकते।

उन्होंने कहा कि  उनका देश यूरोप के साथ  सउदी अरब को जोड़ने वाली रेल सड़क परियोजना समेत बुनियादी ढांचा  परियोजनाओं के जरिये चीन की बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव से मुकाबले के लिए जी सेवन देशों के साथ काम कर रहा है। बता दें कि इस नए आर्थिक गलिये की घोषणा  अमेरिका, भारत, जर्मनी सउदी अरब, सउदी अरब अमीरात, फ़्रांस, जर्मनी ,इटली और यूरोपीय संघ के नेताओं ने इसकी घोषणा की थी।

इस आर्थिक गलियारे में एक पूर्वी गलियारा भी शामिल है जो भारत को खाड़ी देशों से जोड़ता है। गौरतलब है, 7अक्टूबर को हमास ने इजरायल पर 5000 रॉकेट दागे थे। जिसमें 1400 से अधिक लोगों के मारे जाने के बाद इजरायल ने हमास पर जवाबी कार्रवाई शुरू की थी।

ये भी पढ़ें

राजस्थान में कांग्रेस अध्यक्ष डोटासरा के घर छापे, सीएम के बेटे को समन

Shivsena: विधायकों की अयोग्यता पर आज होगी विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष सुनवाई?

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,542फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
162,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें