36 C
Mumbai
Thursday, February 29, 2024
होमदेश दुनिया17वीं लोकसभा में PM Modi ने ओम बिड़ला के मुस्कान की तारीफ़,...

17वीं लोकसभा में PM Modi ने ओम बिड़ला के मुस्कान की तारीफ़, कहा….     

आप हमेशा मुस्कराते रहते थे, आपकी मुस्कान कभी भी फीकी नही पड़ी।   

Google News Follow

Related

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 17वीं लोकसभा के अंतिम सत्र के आखिरी दिन कहा कि ये पांच देश में रिफॉर्म, परफॉर्म के साथ ट्रांसफार्म के रहे। आज का दिन लोकतंत्र की महान परंपरा का महत्वपूर्ण दिन है। 17वीं लोकसभा ने देशसेवा में कई महत्वपूर्ण फैसले लिये। पीएम मोदी ने कहा कि मुझे आशा है कि देश 17वीं लोकसभा को जरूर आशीर्वाद देता रहेगा। इससे पहले लोकसभा में राम मंदिर पर धन्यवाद प्रस्ताव पर सभी नेताओं ने भाषण दिया।

पीएम मोदी ने इस दौरान लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि अपने निष्पक्ष होकर काम किया। ऐसा बहुत कम होता है कि जब सुधार और प्रदर्शन दोनों एक साथ होते हैं। हमने बदलाव होते अपनी आंखों से देखा।17 वीं लोकसभा के माध्यम से इसका देश अनुभव कर रहा है और मेरी उम्मीद है देश वर्तमान लोकसभा को आशीर्वाद देता रहेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि आप हमेशा मुस्कराते रहते थे, आपकी मुस्कान कभी भी फीकी नही पड़ी। अपने कई मौकों पर निष्पक्ष और संतुलित तरीके से इस सदन का मार्गदर्शन किया। इसके लिए मै आपकी प्रशंसा करता हूं। …. पीएम मोदी ने इस दौरा नई संसद भवन निर्माण का श्रेय  ओम बिड़ला को दिया। उन्होंने भारत में हुए जी 20 शिखर सम्मलेन के सफलतापूर्वक  सम्पन्न होने पर कहा कि जी-20 के माध्यम से भारत की लोकतांत्रिक व्यवस्था को पूरी दुनिया ने देखा।

इस दौरान, पीएम मोदी ने बताया कि 17वीं लोकसभा की कार्य उत्पादकता 97 प्रतिशत रही है। उन्होंने विश्वास जताते हुए कहा कि उम्मीद है कि हम 18 वीं लोकसभा में कार्य उत्पादकता का प्रतिशत 100 प्रतिशत होगा। पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर कहा कि सदन कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया जाना संविधान की पूर्ण प्रकटीकरण है। संविधान निर्माताओं की आत्मा हमें आशीर्वाद जरूर देगी। पीएम मोदी ने कहा कि 25 साल में  विकसित भारत का सपना पूरा होगा।

ये भी पढ़ें

 

INDIA गठबंधन को झटका, पंजाब में AAP सभी सीटों पर उतारेगी उम्मीदवार

पाकिस्तान चुनाव परिणाम: भारत पर प्रभाव का विश्लेषण

जो बिना राम के भारत की कल्पना करते हैं ,वो भारत को नहीं जानते 

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,746फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
132,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें