29 C
Mumbai
Saturday, March 2, 2024
होमराजनीतिस्पीकर ने SP सांसद की मानी मांग, दानिश-बिधूड़ी विवाद विशेषाधिकार समिति के...

स्पीकर ने SP सांसद की मानी मांग, दानिश-बिधूड़ी विवाद विशेषाधिकार समिति के पास    

दानिश अली और बीजेपी नेता रमेश बिधूड़ी के बीच उपजे विवाद को सांसदों की शिकायत पर विशेषाधिकार समिति को भेज दिया गया है। 

Google News Follow

Related

लोकसभा में दानिश अली और बीजेपी नेता रमेश बिधूड़ी के बीच उपजे विवाद को सांसदों की शिकायत पर विशेषाधिकार समिति को भेज दिया गया है। गौरतलब है कि बसपा नेता दानिश अली ने लोकसभा स्पीकर को पत्र लिखकर मांग की थी कि इस मामले को विशेषाधिकार समिति के सामने भेजा जाए।

 दानिश अली के अनुसार बिधूड़ी ने उनका विशेषाधिकार हनन किया है और संसद में आतंकी और उग्रवादी कहा था। इस मामले में बीजेपी के नेताओं ने भी दानिश अली पर आरोप लगाया था कि वे बिधूड़ी को उकसाये और पीएम मोदी के खिलाफ टिप्पणी कर रहे थे।

 लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला को लिखे पत्र में दानिश अली ने कहा था कि इस मामले को 227 नियम के तहत विशेषाधिकार समिति को भेजा जाए और उसकी जांच की जाए। इस मामले में कई और सांसदों ने पत्र लिखकर इस मामले को विशेषाधिकार समिति के सामने भेजने की मांग की थी। गौरतलब है कि संसदीय विशेषाधिकार सांसदों को दिया गया है। संसद के किसी भी सदन के सदस्यों और समितियों की शक्तियां और विशेषाधिकार संविधान के अनुच्छेद 105  के तहत निर्धारित किये गए हैं।

सदन में कार्यवाही के दौरान किसी सदस्य के आचरण, भाषण या मानहानि छापना विशेषाधिकार के उल्लंघन माना जाता है। हालांकि यह तय नहीं है कि इसके तहत क्या सजा दी जाएगी। विशेषाधिकार समिति इस बात की जांच करेगी की सदस्य द्वारा दिए गए बयान से सदन के सदस्यों का अपमान हुआ या नहीं, समिति यह भी देखेगी की सदस्य की जनता के सामने छवि  ख़राब हुई।
ये भी पढ़ें 

 

UP ATF को बड़ी कामयाबी: अशरफ का साला सद्दाम दिल्ली से गिरफ्तार  

निज्जर की हत्या में ISI की साजिश! कनाडा पुलिस की पूछताछ, शक गहराया     

भीलवाड़ा मंदिर का सच: PM मोदी ने दानपेटी में लिफाफा नहीं, नोट डाले थे  

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,738फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
133,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें