31 C
Mumbai
Wednesday, April 24, 2024
होमधर्म संस्कृतिजाने कौन हैं सरस्वती देवी? जिन्होंने रामलला के लिए 30 साल से...

जाने कौन हैं सरस्वती देवी? जिन्होंने रामलला के लिए 30 साल से हैं मौन       

85 वर्षीय सरस्वती देवी को प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रण मिला है।

Google News Follow

Related

अयोध्या में बन रहे राम मंदिर को लेकर देशभर में उत्साह है। धनबाद की सरस्वती देवी का 30 साल का संकल्प पूरा हो रहा है। उन्होंने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर मौन व्रत रहने का संकल्प लिया था। 22 जनवरी को रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के बाद ही वे अपना मौन व्रत तोड़ेंगी। 85 वर्षीय सरस्वती देवी को प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रण मिला है। बताया जा रहा है कि “राम सीताराम” शब्द के साथ उनका मौन व्रत टूटेगा।

सरस्वती देवी ने अपने मौन व्रत के ही दौरान चारों धाम की यात्रा भी की। उन्होंने अयोध्या, काशी, मथुरा, तिरुपति बालाजी, सोमनाथ मंदिर और  बाबा बैद्यनाथधाम का भ्रमण किया है। अगर उन्हें अपने परिवार के लोगों से बातचीत करनी होती है तो लिखकर अपनी बातें कहती हैं। उन्होंने बातचीत करने पर लिखकर बताया कि अब उनका हो गया है, रामलला ने मुझे प्राण प्रतिष्ठा में बुलाया है, मेरी तपस्या सफल हुई। 30 साल बाद अब उनका व्रत राम नाम के साथ टूटेगा

गौरतलब है कि सरस्वती देवी को रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। वे आठ जनवरी को अयोध्या जाएंगी। उनके परिवार के अनुसार  सरस्वती सेवी राम जन्म भूमि के मुखिया महंत नृत्य गोपाल दास के प्रेरणा से मौन धारण किया है।

ये भी पढ़ें 

96 साल की शालिनी दबीर, जिन्होंने खाई थी गोली, मिला प्राण प्रतिष्ठा का न्योता      

तीन तलाक पीड़ित महिलाएं बना रहीं रामलला के लिए मोती जड़ित वस्त्र      

Ayodhya Ram Mandir: अयोध्या से काशी में रामज्योति लाएगी मुस्लिम महिला!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,634फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
148,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें