25 C
Mumbai
Saturday, February 24, 2024
होमराजनीति"जेबकतरे" वाले बयान पर फंसे राहुल, चुनाव आयोग को कार्रवाई का आदेश ...

“जेबकतरे” वाले बयान पर फंसे राहुल, चुनाव आयोग को कार्रवाई का आदेश     

21 नवंबर को राहुल गांधी ने कहा था कि " पीएम का मतलब पनौती मोदी है। मोदी टीवी पर आते हैं और हिन्दू मुस्लिम करते हैं और कभी कभी क्रिकेट मैच में चले जाते हैं। ...

Google News Follow

Related

कांग्रेस के नेता राहुल गांधी पार्टी के लिए बार बार मुश्किलें खड़ा करने का काम करते रहें है। दो दिन पहले उन्होंने राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ को लेकर टीएमसी नेता कल्याण बनर्जी द्वारा की जा मिमिक्री का वीडियो बनाकर बखेड़ा खड़ा कर दिया था। अब दिल्ली की हाई कोर्ट ने पीएम मोदी और अमित शाह को राहुल गांधी द्वारा “जेबकतरा” कहे जाने पर नोटिस दिया है और चुनाव आयोग को उनके खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया है।  

दिल्ली हाई कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई करते हुए गुरुवार  चुनाव आयोग को इस मामले में  नियमानुसार कार्रवाई करने को कहा है। 21 नवंबर को राहुल गांधी ने कहा था कि ” पीएम का मतलब पनौती मोदी है। मोदी टीवी पर आते हैं और हिन्दू मुस्लिम करते हैं और कभी कभी क्रिकेट मैच में चले जाते हैं। वो अलग बात है कि मैच हरवा दिया। मोदी का काम आपका ध्यान  इधर उधर करने का है। ऐसे ही दो जेबकतरे होते हैं ,एक आता है आपके सामने बात करता है और आपका ध्यान भटकाता है। तब तक पीछे कोई कोई दूसरा आता है  और जेब काट लेता है।

बता दें कि, अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए विश्वकप खेले गए  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच फाइनल मैच में भारतीय टीम हार गई थी। इसके बाद उन्हें राहुल गांधी ने पनौती करार दिया था। अदालत ने अपने आदेश में कहा है कि ” यह मानते हुए कि जवाब दाखिल करने की समय सीमा समाप्त हो गई है। और कोई जवाब नहीं मिला। अदालत चुनाव आयोग को उचित कार्रवाई करने का आदेश देती है। 

ये भी पढ़ें       

नए भारत का नया कानून

संसद सुरक्षा चूक: दो और संदिग्ध आये सामने, एक गिरफ्तार दूसरे से पूछताछ   

फिर बढ़ी टेंशन…कोरोना के नए वेरिएंट की एंट्री; महाराष्ट्र में कहां..!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,758फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें