27 C
Mumbai
Thursday, July 25, 2024
होमन्यूज़ अपडेटमहाराष्ट्र समेत कुछ राज्यों के लिए ऑरेंज अलर्ट, मौसम विभाग ने की...

महाराष्ट्र समेत कुछ राज्यों के लिए ऑरेंज अलर्ट, मौसम विभाग ने की भविष्यवाणी!

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, 4 जुलाई तक अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय में भारी बारिश की आशंका है।पश्चिम बंगाल, सिक्किम, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में 05 जुलाई तक और कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र और कर्नाटक में 6 जुलाई तक बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

Google News Follow

Related

देशभर में मानसून सक्रिय हो गया है, लेकिन कुछ राज्यों में बारिश नहीं हो रही है और कुछ राज्यों में भारी बारिश हो रही है| मौसम विभाग ने महाराष्ट्र समेत कुछ राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी दी है|महाराष्ट्र में येलो और ऑरेंज अलर्ट दिया गया है| मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, 4 जुलाई तक अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय में भारी बारिश की आशंका है।पश्चिम बंगाल, सिक्किम, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में 05 जुलाई तक और कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र और कर्नाटक में 6 जुलाई तक बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

महाराष्ट्र में इन जगहों पर अलर्ट: बुधवार को महाराष्ट्र के पुणे और नासिक जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही पालघर, ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरी, सतारा, रत्नागिरी, नंदुरबार, बुलढाणा, अकोला, वाशिम, अमरावती, नांदेड़, चंद्रपुर जिलों में येलो अलर्ट जारी किया गया है। बुधवार को प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश हो रही है|

सांगली जिले में भारी बारिश: सांगली जिले के शिराला तालुक में चंदौली बांध क्षेत्र में पिछले दो दिनों से भारी बारिश हो रही है| इसलिए चंदौली बांध से वार्ना नदी बेसिन में 675 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है| साथ ही इस इलाके में जारी बारिश के कारण वरणा नदी उफान पर है|नदी का तल बह रहा है| इसलिए कोक्रूड से रेथेरे बांध में पानी आना शुरू हो गया है| कुछ छोटे बांध पानी में डूब गये हैं| वरणा नदी उफान पर होने से किसानों में खुशी का माहौल है|

सांगली जिले के चंदौली बांध जलग्रहण क्षेत्र में लगातार दूसरे दिन भारी बारिश हुई है। पिछले 24 घंटे में 105 मिमी बारिश दर्ज की गई है| कल 90 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई| बांध में भारी मात्रा में आवक होने से बांध का जलस्तर तेजी से बढ़ने लगा है| आज आखिरकार यहां 700 मिमी बारिश दर्ज की गई है|फिलहाल बांध में 6 हजार 982 क्यूसेक पानी की आवक हो रही है, वहीं भारी बारिश के कारण क्षेत्र के नदी-नाले उफान पर आ गए हैं|

नांदेड़ में टला दोहरी बुआई का संकट: नांदेड़ जिले में लंबे समय से हो रही बारिश के कारण दोहरी बुआई का संकट किसानों के सामने खड़ा हो गया था। तो किसान बहुत चिंता में पड़ गया। लेकिन नांदेड़ में, फसल को जीवनदान मिला है क्योंकि रुकी हुई बारिश फिर से मजबूत हो गई है। जिले में 67 प्रतिशत बुवाई हो चुकी है। कुछ इलाकों में बारिश की कमी के कारण किसानों ने अभी तक बुआई नहीं की है| ऐसे में किसानों को अभी और भारी बारिश का इंतजार करना होगा|

यह भी पढ़ें-

Narendra Modi: रिमोट सरकार चलाती थी कांग्रेस, प्रधानमंत्री ने की तीखी आलोचना!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,489फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
167,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें